Site Feedback

और विचार

कल रात मेरे सपनों में मेरी कुत्तिया मर गयी. मुझे बड़ा कष्ट हुआ, और मैं रोने को नहीं रुक सका. जगने पर मैं समझ गया कि मेरी प्यारी कुत्तिया जीवित है, और मुझे राहत हुआ.
फिर मैं सोचने लगा... जब मैं सो रहा हूँ और सपने में देख रहा हूँ तो वास्ताव में कौन देख रहा है? जो आदमी 'दैन्यल' कहलाता है, वह नहीं देख रहा है. मैं ऐसा कहता हूँ क्योंकि सपनों में हम पूरे विशवास से मानते है कि हम सपने का व्यक्ति है. जैसे अगर मैं सपने में राजा हूँ, तो मैं खुद को राजा समझता हूँ और मैं कभी 'दैन्यल' का नाम भी नहीं लेता. इसलिए मालूम होता है कि दैन्यल राजा का रूप न धर रहा है या राजा दैन्यल का रूप न धर रहा है. तो फिर मैं कौन हूँ? कौन सब द्रश्य देख रहा है? अध्यात्मिक दृष्टि से कहते हैं कि परमात्मा वास्ताव में देख रहे हैं. परमात्मा सब के लीलाधारी हैं. मैं यह मान सकता हूँ.

please listen to my recording also and correct any mistakes in pronunciation. I had to speak fast to fit it in the allotted minute.

Share:

 

2 comments

    Please enter between 0 and 2000 characters.

     

    Corrections

     

    और विचार

    कल रात मेरे सपनों में मेरी कुत्तिया मर गयी. मुझे बड़ा कष्ट हुआ, और मैं रोने को नहीं रुक सका. जगने पर मैं समझ गया कि मेरी प्यारी कुत्तिया जीवित है, और मुझे राहत हु.
    फिर मैं सोचने लगा... जब मैं सोता हूँ और सपने में देखता  हूँ तो वास्ताव में मुझे कौन देखता  है? जो आदमी 'दैन्यल' कहलाता है, वह नहीं देख रहा है. मैं ऐसा कहता हूँ क्योंकि सपनों में हम पूरे विश्वास से मानते है कि हम सपनो के व्यक्ति है. जैसे अगर मैं सपने में राजा हूँ, तो मैं खुद को राजा समझता हूँ और मैं कभी 'दैन्यल' का नाम भी नहीं लेता. इसलिए मालूम होता है कि दैन्यल राजा का रूप नही धर रहा है या राजा दैन्यल का रूप नही धर रहा है. तो फिर मैं कौन हूँ? कौन ये सब द्रश्य देख रहा है? अध्यात्मिक दृष्टि से कहते हैं कि परमात्मा वास्तव में देख रहे हैं. परमात्मा सब के लीलाधारी हैं. मैं यह मान सकता हूँ. 


    please listen to my recording also and correct any mistakes in pronunciation. I had to speak fast to fit it in the allotted minute.

     

    you speak very well but you use same pronunciation in क ख. you can remove with little practice if you have any Hindi video . watch it carefully. one  word are: Khan,

     

    और विचार

    कल रात मेरे सपनों( did u mean in multiple dreams ur pet died, if yes then u r right)सपने में मेरी कुतिया मर गयी. मुझे बड़ा कष्ट हुआ, और मैं रोने को नहीं रुक रोक सका(मैं अपने आप को रोने से नहीं रोक सका). जगने(जागने) पर मैं समझ गया कि मेरी प्यारी कुतिया जीवित है, और मुझे राहत हुआ हुई.
    फिर मैं सोचने लगा... जब मैं सो रहा हूँ और सपने में देख रहा हूँ तो वास्ताव में कौन देख रहा है? जो आदमी 'दैन्यल' कहलाता है, वह नहीं देख रहा है. मैं ऐसा कहता हूँ क्योंकि सपनों में हम पूरे विशवास से मानते है कि हम सपने का के व्यक्ति है(या सपने में मौजूद व्यक्ति हैं). जैसे अगर मैं सपने में राजा हूँ, तो मैं खुद को राजा समझता हूँ और मैं कभी 'दैन्यल' का नाम भी नहीं लेता. इसलिए मालूम होता है कि दैन्यल न राजा का रूप धर रहा है या और न राजा दैन्यल का रूप धर रहा है. तो फिर मैं कौन हूँ? कौन सब(ये सारे) द्रश्य दृश्य देख रहा है? अध्यात्मिक दृष्टि से कहते हैं कि परमात्मा वास्ताव में देख रहे हैं. परमात्मा सब के लीलाधारी हैं. मैं यह मान सकता हूँ. 

    please listen to my recording also and correct any mistakes in pronunciation. I had to speak fast to fit it in the allotted minute.

     

    very good recording. 

     एक बात बताइए, आपने इतनी अच्छी हिंदी कैसे से सीखी ? :)

    Write a correction

    Please enter between 25 and 8000 characters.

     

    More notebook entries written in Hindi

    Show More