Site Feedback

बिना गुरु के ज्ञान नही होता।

 

सच्चा प्रेम दुर्लभ है, सच्ची मित्रता और भी दुर्लभ है।

Share:

 

0 comments

    Please enter between 0 and 2000 characters.

     

    Corrections

    बिना गुरु के ज्ञान नही होता।

    सच्चा प्रेम दुर्लभ है, सच्ची मित्रता और भी दुर्लभ है।

    it is correct pharses.

    Write a correction

    Please enter between 25 and 8000 characters.

     

    More notebook entries written in Hindi

    Show More