Sini
आज बाइस सितम्बर है और बुधवार। सुबह को मैं साढ़े छह बजे उठी। काम दिन के कपड़े पहनकर और मेकउप अप्लाई करके मैंने अपनी बेटी को जगाया। अपनी गाड़ी तक जाकर मैंने नोटिस किया कि पिछले रात में काफ़ी ठंडा तापमान हुआ था क्योंकि गाड़ी की खिड़कियों पर उमस बर्फ़ की तरह जमी हुई थी। खिड़कियों को साफ़ करके मैं बेटी को चाइल्डमाइंडर के यहाँ ले गई और फिर दफ़्तर पर चलाई। काम के बाद मुझे अपने अन्य बच्चे के लिए कुछ दवा ख़रीदने के किए फार्मेसी जाना है। शाम को जब बच्चे लोग भी घर पर हैं तो हम कुछ भोजन खाएँगे। फिर मेरा हिंदी का एक ऑनलाइन पाठ हो यहाँ आईटाल्की पर। काफ़ी सामान्य दिन होगा।
Sep 22, 2021 6:11 AM
Corrections · 8
आज बाइस सितम्बर है और बुधवार। सुबह को मैं साढ़े छह बजे उठी। ऑफ़िस के कपड़े पहनकर और मेकउप अप्लाई करके मैंने अपनी बेटी को जगाया। अपनी गाड़ी तक जाकर मैंने नोटिस किया कि पिछले रात काफ़ी ठंडा तापमान रहा होगा क्योंकि गाड़ी की खिड़कियों पर उमस बर्फ़ की तरह जमी हुई थी। खिड़कियों को साफ़ करके मैं बेटी को चाइल्डमाइंडर के यहाँ ले गई और फिर दफ़्तर पर चली गयी । काम के बाद मुझे अपने बच्चे के लिए कुछ दवा ख़रीदने के किए फार्मेसी जाना है। शाम को जब बच्चे लोग भी घर पर होंगे तो हम भोजन करेंगें। फिर मेरा हिंदी का एक ऑनलाइन पाठ होगा यहाँ आईटाल्की पर। काफ़ी सामान्य दिन होगा।
September 23, 2021
आज बाइस सितम्बर है और दिन बुधवार। सुबह को मैं साढ़े छह बजे उठी। फिर औपचारिक कपड़े पहनकर और मेकउप लगाकर मैंने अपनी बेटी को जगाया। अपनी गाड़ी तक जाकर मैंने नोटिस किया कि पिछले रात को काफ़ी ठंडा तापमान रहा होगा क्योंकि गाड़ी की खिड़कियों पर ओस बर्फ़ की तरह जमी हुई थी। फिर खिड़कियों को साफ़ करके मैं बेटी को मानसिक स्वास्थ्य केंद्र ले गई और वहाँ से दफ़्तर निकल गयी। काम के बाद मुझे अपने अन्य बच्चों के लिए कुछ दवा ख़रीदने के किए फार्मेसी (दवादुकान) जाना है। शाम को जब बच्चे लोग भी घर पर है तो हम भोजन साथ करेंगे। फिर मेरा हिंदी का एक ऑनलाइन कक्षा भी है यहाँ आईटाल्की पर। यह हमेशा की तरह काफ़ी सामान्य दिन होगा।
September 23, 2021
Want to progress faster?
Join this learning community and try out free exercises!